प्रेगनेंसी रोकने और गर्भधारण से बचने के 7 सफल उपाय व तरीके

प्रेग्नेंट होने से बचने के उपाय इन हिंदी: आज ही महंगाई में बच्चे पालना कोई आसान काम नहीं रह गया है इसलिए बहुत से लोग फैमिली प्लानिंग करते है की उन्हें कब बच्चा चाहिए और 2 बच्चो के पैदा होने के बीच कितना गैप हो। इसके लिए वो प्रेगनेंसी रोकने के हर संभव उपाय अपनाते है इसके अलावा भी प्रेगनेंसी रोकने की सबकी अपने अलग अलग वजह हो सकती है। कुछ लोग विवाह से पहले ही असुरक्षित संबध कर बैठते है जिससे लड़की प्रेगनेंट हो जाती है। कुछ ऐसे है जिनकी कुछ समय पहले ही शादी हुई है और वो  चाहते है की जब तक वो पूरी तरह तैयार न हो जाते है बच्चा पैदा न हो। सबसे सरल और पॉपुलर गर्भधारण से बचने का तरीका है कंडोम का इस्तेमाल करना जिसके बारे में हम सब जानते है। पर कुछ लोग चाहते है वो बिना कंडोम के आपसी मेल का आनंद ले और फिर प्रेग्नेंट होने से भी बच जाए।  आज हम प्रेगनेंसी रोकने व अनचाहे गर्भ से बचने घरेलू उपाय इन हिंदी : Pregnancy rokne ke Tips & Tablet बताएँगे।

प्रेगनेंसी रोकने के उपाय तरीके Pregnancy se Bachne ke Upay in Hindi

प्रेगनेंसी रोकने व गर्भधारण से बचने के उपाय और तरीके

Pregnancy se Bachne aur Rokne ke Upay in Hindi

बिना डॉक्टर के पास जाये और कोई टेबलेट खाए भी प्रेगनेंसी को रोका जा सकता है। हम कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे और उपाय निचे बताएँगे जिन्हें आप घर पर ही तैयार करके Unwanted Pregnancy (अनचाहे गर्भ) से बच सकते है।

1. पीरियड्स का ध्यान रखे

अनचाहे गर्भ से अगर बचना है और बिना किसी रुकावट के आपसी मेल का भी मज़ा लेना है तो आपको पीरियड्स के दिनों के बारे में पूरी जानकारी रखना बेहद जरुरी बन जाता है। ये माना जाता है मासिक धर्म ख़त्म होने के बाद 5 से 10 दिन के बीच का समय प्रेग्नेंट होने के लिए सबसे उपयुक्त माना जाता है इसलिए जिन्हें बच्चा नहीं चाहिए वो इन दिनों के बीच संबंध ना बनाएग और अगर करना ही हैं तो जरुरी प्रोटेक्शन (कंडोम) इस्तेमाल करे।

2. पपीता

वैसे तो pregnant महिला को फ्रूट्स खाने के सलाह दी जाती है पर पपीता एक ऐसा फल है जिससे परहेज करने के लिए कहा जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि ये फल प्रेग्नेंसी रोकने के लिए जाना जाता है। सहवास करने के बाद 4-5 दिनों तक सुबह शाम पपीता खाए  या पपीते का जूस पिए। इससे गर्भवती होने के सम्भावना को काफी हद तक कम करने में मदद मिलेगी।

3. नीम

प्राकर्तिक तरीके से प्रेगनेंसी रोकने के लिए नीम एक प्रभावी औषधि के रूप में काम करती है। नीम को स्पर्म मोटिलिटी को कम करने के लिए जाना जाता है जिसके परिणामस्वरूप गर्भ में बच्चा बनने क प्रक्रिया रुकने में मदद मिलती है।

  • नीम को कई तरीके से गर्भ से बचने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। जिन महिलाओ को प्रेग्नेंट होने की आशंका है वो नीम की पत्तिय चबाये। इसके अलावा नीम का तेल से भी इसे रोका जा सकता है उसके लिए नीम के तेल को इंजेक्शन के द्वारा महिला के गर्भाशय और फैलोपियन ट्यूब के जुड़ने वाली जगह पर डाला जाता है जिससे पल भर में सब शुक्राणु खत्म हो जाते है। इसके लिए आपको किसी अच्छे हॉस्पिटल में जाना होगा।

4.  सूखी अंजीर

अनचाहे गर्भ से बचने के लिए सुखी अंजीर एक असरदार घरेलू नुस्खा है। ये उपाय काफी सरल है बस आप जब भी सम्भोग करे उसके बाद कुछ सुखी अंजीर खा ले। अंजीर रोजाना तब तक खाते रहे जब तक आपके अगले पीरियड्स ना शुरू हो जाए। अंजीर खाने से आपके खून का दौरा भी बेहतर होता है।

5. गाजर के बीज

पुराने समय में प्रेगनेंसी रोकने के उपाय के लिए जंगली गाजर की बीजो का सेवन किया जाता है। जो आज भी काफी असरदार आयुर्वेदिक नुस्खा है। इसका भी तरीका सिंपल है आपको एक चमच्च गाजर के बीज (carrot seed) को एक चमच्च पानी में अच्छे से मिलकर पीना है। जब भी आपको लगे की आपसे भूल हो गयी है या आपको डर का गर्भ ठहरने का तो ये उपाय करना शुरू कर दे।

लम्बे समय तक बिना प्रेगनेंसी की टेंशन के सम्भोग करने का मज़ा लेने के लिए कॉपर टी एक अच्छा विकल्प है। इसमें डॉक्टर द्वारा महिला के गर्भाशय में कॉपर टी लगायी जाती है जिससे 10 साल तक गर्भ नहीं ठहरता। Copper T लगवाने से पहले इसके साइड इफेक्ट्स के बारे में पूरी जानकारी ले।

6. सूखे खुबानी (Apricot)

Pregnancy rokne ke upay में खुबानी एक असरदार घरेलु नुस्खा हैं। एक बात का ध्यान रहे जब प्रेगनेंसी पॉजिटिव रिजल्ट आ जाए यानी प्रेग्नेंट होने के बाद ये उपाय नहीं करना चाहिए। 100 ग्राम सूखे खुबानी, 2 चमच्च शहद और एक कप पानी आपस में मिलकर आधे घंटे तक उबाले। इसे थोडा ठंडा करके पिए। ये नुस्खा ज्यादा ब्लीडिंग रोकने में भी मदद करता हैं।

 

गर्भनिरोधक गोली (Birth Control Pill) : Pregnancy rokne ke liye Tablet

प्रेगनेंसी रोकने का जो सबसे आम तरीका महिलाओ द्वारा किया जाता है वो है गर्भनिरोधक टेबलेट लेना। हालाँकि इसके परिणाम तो काफी हद तक अच्छे ही आते है पर इसके लम्बे समय तक सेवन से कुछ साइड इफेक्ट्स भी होते है। इसलिए हम सलाह तो यही देंगे की ऊपर दिए गए गर्भधारण से बचने के हर्बल और घरेलू उपाय ही किये जाए। अगर ये आपके लिए काम नहीं कर रहे तो ही आप दवा का विकल्प चुने।

Pregnancy रोकने के लिए टेबलेट को नियमित रूप से लेना आवश्यक है। अगर हम ऐसा नहीं करते तो उनके रिजल्ट उतने अच्छे नहीं आते। घर पर ही Pregnant होने से बचने के लिए i Pill और Unwanted 72 नाम की Tablets काफी असरदार है। इनमे से कोई एक गोली का सेवन करे। ध्यान रहे सम्भोग करने के बाद 72 घंटे के भीतर ही ये गोली आपको खानी होगी। कोई भी ऐसे मेडिसिन या टेबलेट लेने से पहले डॉक्टर से सलाह जरुर ले।

हमें उम्मीद है हमारे इस लेख प्रेगनेंसी रोकने के तरीके : Pregnancy se Bachne ke Upay Tablet in Hindi? से आपको सभी सवालो के जवाब मिल गए होंगे। अगर आपका कोई और गर्भधारण से बचने के उपाय को लेकर अन्य सवाल है तो निचे पूछ सकते है।

97 Comments

  1. Aashu
  2. Prabhat
      • Prabhat
  3. Kamlesh
  4. Raja
  5. Pratiksha
  6. Suman
  7. Sonu
  8. Vijay

Leave a Reply

error: Content is protected !!