पीरियड्स में क्या खाए और कौन से चीजे नहीं खानी चाहिए

महिलाओ को पीरियड्स के दिनों में विशेष सावधानी रखने की जरुरत होती हैं। ये सावधानी सिर्फ पैड बदलने तक ही सीमित नहीं हैं बल्कि खाने पीने का ध्यान रखना भी बहुत आवश्यक होता हैं। पीरियड्स में क्या खाए और क्या नहीं खाना चाहिए, इस बारे में आज बताएँगे। माहवारी के दिनों के दौरान थकान, पेट और कमर में दर्द, चिडचिडापन जैसे समस्याए औरतो को झेलनी पड़ती हैं। जो कुछ भी हम खाते हैं उनका असर इन लक्षणों पर भी पड़ता हैं। कुछ ऐसे चीजे हैं जिन्हें खाने से इन समस्याओ में काफी कमी आती हैं तो कुछ ऐसे भी खाने हैं जो परेशानियो को और बढ़ा देते हैं। इसलिए पीरियड्स में डाइट को लेकर लापरवाही नहीं करनी चाहिए।

पीरियड्स में क्या खाना चाहिए : Periods Diet in Hindi

पीरियड्स में क्या खाना चाहिए : Periods Diet in Hindi

1. हरी सब्जिया खाए

पीरियड्स में महिलाओ का काफी खून निकल जाता हैं। खून के साथ में उसमे मौजूद पोटेशियम, मैग्नीशियम, आयरन जैसे कई पौषक तत्व भी खून के साथ निकल जाते हैं। जिसकी वजह से बहुत सी औरते को थकान, कमजोरी, चक्कर आना और आँखों के आगे अँधेरा छा जाना जैसे समस्याओ का  सामना करना पड़ता हैं। हरी सब्जिया खाने से इन सब पौषक तत्वों के साथ खून की कमी भी दूर होती हैं।

2. केला

केला पोटेशियम का उच्च स्त्रोत होने होता हैं। इसके अलावा केले में पोत्ताशियम, विटामिन b6 के साथ कई दुसरे विटामिन्स भी होते हैं जो आपके मूड को ठीक करते हैं। केला पेट के लिए भी अच्छा होता हैं। हाजमे को बेहतर बनाने में भी इससे मदद मिलती हैं। पीरियड्स में कुछ महिलाओ को कब्ज़ और हाजमे की शिकायत रहती हैं। इसलिए पीरियड्स में केला खाना काफी सही रहता हैं।

3. अखरोट

पीरियड्स में होने वाले दर्द में राहत पाने में अखरोट काफी असरदार होता हैं। अखरोट खाने से दिमाग तेज़ होता हैं ये तो हम सबने सुना ही हैं। दिमाग के अलावा माहवारी में भी अखरोट खाने से कई फायदे होते हैं। अखरोट में ओमेगा 3 फैटी एसिड होता हैं जो सुजन और दर्द में आराम पहुचाता हैं।

4. अंडा और मीट

मासिक धर्म में ब्लीडिंग होने से खून की कमी हो जाती हैं। जिससे एनीमिया जैसे बीमारी होने के भी खतरा रहता हैं। अगर आप नॉन वेज़ खाते हैं तो अंडा और मीट खाना आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता हैं। अंडे और मीट में प्रोटीन काफी होता हैं जिससे शरीर में खून की कमी दूर होने के साथ काफी पौषक तत्व भी मिलते हैं। इनके अलावा मछली खाना भी पीरियड्स में अच्छा रहता हैं।

5. अनानास

स्वाद में शायद कुछ लोगो को अनानास उतना अच्छा ना लगता हो पर इसके फायदे अनेक होते हैं। अनानास में ब्रोमेलेन नाम का एक कंपाउंड होता हैं जो पीरियड्स में होने वाले पीड़ा को कम करने का काम करता हैं। जब भी आपको मासिक धर्म के दौरान कमर या पेट में  दर्द हो तो अनानास काट कर खाए।

6. अदरक

MC में जी मिचलाना और पेट में अफरा रहना आम प्रॉब्लम हैं। इन दोनों से छुटकारा पाने में अदरक एक कारगर उपाय हैं। अदरक को नार्मल चाय या फिर ग्रीन टी में डालकर सेवन करने से इसका असर और ज्यादा होता हैं।

7. चॉकलेट

लडकियों से अगर पूछा जाए की उन्हें सबसे ज्यादा खाने की कौन सी चीजे पसंद हैं तो उनमे चॉकलेट का नाम सबसे उपर आयगा। और अगर हम कहे की पीरियड्स में चॉकलेट खानी चाहिए तो आपको थोड़ी हैरानी होगी। पर ये सही हैं पीरियड्स में चॉकलेट खाना बहुत फायदेमंद होता हैं। पर वो चॉकलेट डार्क वाली होनी चाहिए जिसमे शुगर कम होता हैं।

पीरियड में कौन सी चीजे नहीं खानी चाहिए (परहेज़)

  1. माहवारी में कॉफ़ी पीने से परहेज करना चाहिए। कॉफ़ी में कैफीन होता हैं जो हारमोंस को उत्तेजित कर सकता हैं जिससे पीरियड्स के लक्षण और ज्यादा बढ़ सकते हैं और इन दिनों की परेशानी और बढ़ जाती हैं।
  2. पीरियड्स के दौरान ज्यादा मीठे चीजे नहीं खानी चाहिए। कैंडी, मिठाई और सोडा जैसे चीजे जिनमे शुगर अधिक होता हैं उनसे परहेज करना चाहिए। क्योंकि इनमे शुगर अधिक होता हैं तो इससे एक बार तो एनर्जी लेवल बढ़ जाता हैं पर फिर वो एकदम से काफी निचे आ जाता हैं।
  3. दूध, दही, पनीर जैसे डेरी प्रोडक्ट भी पीरियड्स में नहीं लेने चाहिए। दूध से बनी ज्यादातर चीजो में एक ऐसा फैट और प्रोस्टाग्लैंडिन नाम का केमिकल होता हैं जो पीरियड में दर्द को और बढ़ा सकता हैं। अगर ऐसे चीजे खानी भी है तो एक लिमिट में ही ले।
  4. फ्राई किये गए किसी भी खाने का सेवन जायदा ना करे। वो चाहे चिप्स, स्नैक्स हो या फिर कोई फ़ास्ट फ़ूड हो। ये सभी खाने एस्ट्रोजेन हारमोंस के लेवल को बढ़ा देते हैं जिससे चिडचिडापन और बढ़ जाती हैं।
  5. अगर आप शराब का सेवन करते रहते हैं तो पीरियड्स के दिनों में शराब पीना बिलकुल बंद कर दे। इन दिनों में शराब पीने से कई नुकसान हो सकते हैं। शराब पीने से अनियमित माहवारी की समस्या आ सकती हैं। अल्कोहल खून को पतला करने का भी काम करता हैं जिससे पीरियड्स में होने वाली ब्लीडिंग बढ़ सकती हैं।
  6. ज्यादा नमक वाले खानों का सेवन नहीं करना चाहिए। नमक शरीर में जल प्रतिधारण का काम करता हैं और माहवारी में पहले से हारमोंस की वजह से जल प्रतिधारण रहता हैं जिससे समस्या और बढ़ जाती हैं। इसलिए खाने में नमक कम मात्रा में ही ले।
  7. लाल मांस जिसमे फैट काफी ज्यादा मात्रा में होता, उससे परहेज़ करे। ज्यादा फैट शरीर में ऐंठन को बढ़ा देता हैं।

ilajUpay का आज का ये लेख पीरियड्स में क्या खाए और क्या नहीं खाना चाहिए? कैसा लगा हमें कमेंट्स में जरुर बताये। पीरियड्स डाइट को लेकर अपने सवाल भी आप निचे पूछ सकते हैं।

Leave a Reply

error: Content is protected !!