मुंह जीभ और गला सूखने के कारण लक्षण और 6 घरेलू उपाय

मुंह सूखने के कारण और उपाय : बार बार मुंह सुखना और खासकर रात को सोते समय जीभ गले या मुंह में खुश्की आना तब होता हैं जब मुंह में उतनी लार ना बना पा रहा हो जितनी जरुरत होती हैं। मेडिकल भाषा में इसे xerostomia नाम की बीमारी से जाना जाता हैं।  मुंह सूखने से ना सिर्फ असहज महसूस होता है बल्कि लम्बे समय तक ऐसा रहने से दांतो और मसूड़ों की बीमारिया भी हो सकती हैं। ज्यादा उम्र के लोगो में ये समस्या ज्यादा आम होती हैं। जो लोग किसी दूसरी बीमारियों के इलाज के लिए दवाइयों का ज्यादा सेवन करते हैं उनको भी मुंह सूखने (Dry Mouth) की समस्या रहती हैं। आज जानेंगे मुंह सूखने के कारण, लक्षण और घरेलू  इलाज।

एक स्वस्थ इंसान को तनाव और दुखी होने पर मुंह में खुश्की आती हैं। पर कुछ लोग को ड्राई माउथ की प्रॉब्लम हमेशा रहती हैं। हमारी लार में कई एन्ज़ाइम, इलेक्ट्रोलाइट्स और पानी होता हैं मुंह के स्वास्थ्य के लिए जरुरी हैं। अगर जरुरी मात्रा में लार नहीं बन पानी तो होंठ फटना, माउथ इन्फेक्शन और मसूड़ों के रोग हो सकते हैं।

 

मुंह सूखने के कारण : Dry Mouth Causes in Hindi

  1. कई दवाइयों के साइड इफ़ेक्ट के रूप में भी मुंह सूखने लग जाता हैं। हाई ब्लड प्रेशर, तनाव, हाई एंटीबायोटिक्स की दवाइया लेने से ऐसा हो सकता हैं।
  2. सिगरेट और बीड़ी पीने वालो को भी खुश्की काफी आती हैं।
  3. प्रेगनेंसी में कई तरह के हार्मोन्स में बदलाव आता हैं जिनकी वजह से जीभ और गला सूखने की समस्या पैदा होती हैं।
  4. मुंह से सांस लेने वालो के साथ भी ऐसा काफी होता हैं। रात को सोते समय नाक की बजाय मुंह से सांस लेने से मुंह काफी सूखता हैं।
  5. उम्र बढ़ने के साथ शरीर के कई अंग सही से काम करना बंद कर देते हैं और उनके साथ में मेडिसिन लेने से मुंह सूखने की सम्भावना और बढ़ जाती हैं।
  6. अधिक टेंशन और तनाव मुंह सूखने का एक बड़ा कारण होता हैं।

मुंह गला जीभ सूखने के लक्षण

  • बार बार मुंह सूखते रहना।
  • सूखे और फटे होंठ
  • बोलने और कुछ निगलने में मुश्किल आना।
  • प्यास अधिक लगना
  • मुंह सूखते रहने से बैक्टीरिया अधिक बनते हैं जिससे जीभ सफ़ेद दिखाई देती हैं।
  • मुंह से बदबू आना
  • स्वाद पहचानने की शक्ति कमज़ोर होना।

मुंह जीभ गला सूखने के कारण इलाज

जीभ गला और मुंह सुखना रोकने के उपाय

लम्बे समय तक मुँह सूखना रहने के कई नुकसान हो सकते हैं। इसलिए जल्दी से इसका इलाज करना जरुरी हैं निचे कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे दिए गए है जिनसे घर पर ही इस समस्या का उपचार कर सकते हैं।

1. अदरक 

अदरक में कई ऐसे औषधीय गुण होते हैं जो इस प्रॉब्लम से छुटकारा पाने में मदद करते हैं। इसमें जिंजरोल नाम का यौगिक होता हैं जो लार बनाने में सहायक होता हैं। इसके साथ में ये आपके मुंह में ताज़गी भी बनाए रखता हैं।

  • एक कप पानी  टुकड़ा अदरक का बारीक़ काटकर उबाले। इस अदरक वाले पानी के थोड़ा ठंडा हो जाने पर इसमें थोड़ा शहद मिलाए और उसे तुरंत पिए।

2. पानी पिए

तरल पेय पदार्थो का काम सेवन करने से भी कई बार खुश्की बन जाती हैं। इसलिए जिन्हे Dry  Mouth ज्यादा रहता हैं उन्हें पानी अधिक पीना चाहिए। पुरुषो को दिन में 3 लीटर और महिलाओ को 2-2.5 लीटर पानी जरूर पीना चाहिए। हालाँकि हमेशा कम पानी पीना मुह सूखने का कारण नहीं होता। पर फिर भी पानी पीने से इसमें फायदा ही होगा। जितना पानी पिया जायगा उतना ही दांतों आर जीभ का बैक्टीरिया से बचाव होगा।

3. अनानास खाए

अनानास खाने से खुस्की दूर करने में काफी फायदा होता हैं। अनानास में ब्रोमेलेन काफी मात्रा में होता हैं जो लार को पतला करने और उसका प्रवाह बढाने में मददगार होता हैं।

  • अनानास को काटकर उसका एक टुकड़े को चबा चबा कर खाए। ऐसा आप दिन में 2-3 बार जरुर करे। इससे मुंह बैक्टीरिया फ्री रहेगा और लार का सही से बनना फिर से शुरू होगा।

4. निम्बू पानी

मुंह सूखने के घरेलू इलाज में निम्बू एक रामबाण उपाय हैं। इसमें सिट्रिक एसिड बहुत होता हैं जो मुंह से गन्दगी ख़त्म करता हैं और मुंह में ताजगी पैदा करता हैं। जिससे लार बनने की प्रक्रिया और तेज़ होती हैं और जिससे बार बार गला सूखने की समस्या दूर होने में मदद मिलती हैं।

  • एक गिलास पानी में आधा निम्बू निचोड़ कर पिए। स्वाद के लिए पानी में शहद भी मिला ले। निम्बू पानी में एसिड काफी होता हैं इसलिए इसे दिन में एक बार ही पिए।

5. एलो वेरा

बहुत सी बीमारियों के इलाज में एलो वेरा आयुर्वेदिक औषधि के जैसे काम करता हैं। इसके सेवन से मुंह के सवेदनशील टिश्यू को कई फायदे होते हैं। एलो वेरा लार बनाने वाली ग्रंथियों के कामकाज को और बेहतर करता हैं जिससे राल ज्यादा बनती हैं और मुंह सूखना होना बंद हो जाता हैं। पानी में 15-30 ml एलो वेरा जूस मिलकर रोजाना पीना शुरू करे।

6. सौंफ चबाए

सौंफ के बीजो में Flavonoids नाम का मेटाबोलाइट्स पाया जाता हैं जो लार के निर्माण में करने वाली गर्न्थियो को उत्तेजित करता हैं। इसके अलावा सौफ खाने से मुह की दुर्गन्ध भी दूर होती हैं और लम्बे समय तक मुंह साफ़ और ताजगी से भरा रहता हैं। खाना खाने के बाद कुछ सौंफ के बीज मुंह में लाकर चबाए। ये उपाय आप कुछ दिनों तक रेगुलर करे। इससे मुंह जीभ और गला सूखने की समस्या में काफी फायदा होगा।

Leave a Reply

error: Content is protected !!