मेडिटेशन कैसे करे: ध्यान केन्द्रित करने का सही तरीका व फायदे

मेडिटेशन कैसे करे: जिस तरह से शरीरिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए हम योगा या व्यायाम करते है वैसे ही मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए और आंतरिक शांति के लिए मैडिटेशन किया जाता है. साधारण भाषा में इसे ध्यान लगाना या ध्यान केन्द्रित करना भी कहा जाता है. अब आपके मन में ये सवाल उठ रहा होगा की मेडिटेशन कैसे करे और ध्यान लगाने का सही तरीका क्या है. हम सब ने सुना है पुराने समय में ऋषि मुनि लम्बे समय तक ध्यान में बैठा करते थे. ये माना गया है वो अपना ध्यान एक जगह केन्द्रित करके मन की शांति और बहुमूल्य ज्ञान  प्राप्त करते थे. मेडिटेशन हम किसी भी समय और अवस्था में कर सकते है इस लेख में आप जानेंगे मेडिटेशन कैसे करते है, ध्यान लगाने की विधि और ध्यान लगाने के क्या फायदे होते है.

 

मेडिटेशन (ध्यान केन्द्रित करना) क्या है: Meditation kya hai in Hindi

आज के समय में हर किसी की अपने परेशानिया है जिस वजह से हमें तनाव रहता है कई बार वो इतना बढ़ जाता है हमारा किसी काम में मन नहीं लगता वही मन में चलता रहता है. कैसे इस तनाव से मुक्ति पाई जाए और कैसे हम अपने मन को शांत करे उसका जो सबसे बेहतर उपाय है वो है मेडिटेशन जिसे ध्यान लगाना भी कहते है. अब सवाल ये पैदा होता है ये मेडिटेशन क्या है और मैडिटेशन के लाभ कैसे होते है. अपने सब परेशानियों और टेंशन का न सोचकर और बहार की और सब आवाजों को भूल कर ऐसे एक जगह ध्यान में बैठ कर एक जगह ध्यान केन्द्रित करे और अपने मन की आवाज़ सुनना ही मेडिटेशन है. बिना कुछ सोचे लम्बे समय तक ध्यान लगाना शुरुआत में काफी मुश्किल होता है. इसके लिए जो सबसे आसान तरीका है वो है अपने साँसों पर ध्यान केन्द्रित करना. इससे धीरे धीरे आपके एकाग्रता बढती जायगी जो इसमें सबसे महत्वपूर्ण है. और ज्यादा विस्तार से मैडिटेशन टिप्स और सही तरीको के बारे में आप आगे जानेंगे.

Dhyan kaise kare: Meditation karne ka tarika in hindi

Dhyan kaise kare

मेडिटेशन कैसे करे: ध्यान लगाने का सही तरीका हिंदी में

Dhyan kaise kare: Meditation karne ka tarika in hindi

1. शांत वातावरण चुने

मैडिटेशन करने के लिए सबसे जरुरी है शांत वातावरण. जहा आप सही से ध्यान लगा पाए, आस पास की आवाजों से ध्यान भंग न हो पाए. इसके अलावा मेडिटेशन हम कही भी कर सकते है वो आपका रूम हो ऑफिस हो या किसी बाहरी जगह. बस आस पास ज्यादा आवाज़े न हो. मेडिटेशन की समय अवधी 20 मिनट से आधे घंटे तक हो सकती है. अगर आप पहले बार कर रहे तो थोडा और सावधानी जरुरी है. टीवी मोबाइल फ़ोन और दूसरी आवाज़ करने वाले उपकरण बंद कर दे. इनके आलावा भी और आवाज़े है तो कान में रुई भी डाल सकते है.

 

2. मंत्र का चुनाव

मंत्र एक ऐसा शब्द है जो हम मेडिटेशन करते समय दोहराते है. और ये मन्त्र कुछ भी हो सकता है इस मंत्र का उद्देश्य बस अपने ध्यान को भटकने नहीं देना है. और मन में उठने वाले निचारो से ध्यान हटाने में भी ये मंत्र काम करता है. ये जरुरी नहीं की कोई विशेष शब्द ही इसके लिए इस्तेमाल करे. कुछ लोग ॐ बोलते है कोई शांति को मन्त्र के रूप में इस्तेमाल करता है. आप अपने पसंद का कोई भी शब्द का चुनाव कर सकते है.

 

3. आरामदायक पोजीशन और कपडे

मेडिटेशन करने के सही तरीके के लिए कोई एक अवस्था में ही होना जरुरी नहीं है जैसा की हम ज्यादातर लोगो को योग साधना करते हुए देखते है वो क्रोस लेग करके बैठते है. पर आपको जैसा आरामदायक लगे आप वैसे ही बैठे. हम कुर्सी सोफे या फर्श कही भी बैठ सकते है. इसके अलावा कपडे ऐसे पहले जो खुले हो और तंग ना हो. क्योंकि कई बार ऐसा होता है कपडे आरामदायक न होने के वजह से मैडिटेशन करते समय बार बार वह ध्यान जाता रहता है जो सही नहीं है.

 

4. आँख बंद करके सांस अंदर बाहर

सबसे पहले आँख बंद करके बैठ जाए. फिर नाक के जरिये धीरे सांस अंदर ले और मुह से सांस बाहर छोड़े. थोड़े देर बाद ऐसे सांस लेने और छोड़ने के प्रक्रिया साधारण गति से करने लग जाए.

 

5. मंत्र का उच्चारण 

जिस भी मंत्र का चुनाव आपने किया है उसको अब आराम से बिना होंठ और जीभ हिलाए बोलना शुरू करे. उदहारण के लिए अगर आप ॐ बोलते है तो सांस लेते और छोड़ते समय धीरे धीरे बिना ज्यादा जोर लगाये मंत्र बोले. और मंत्र दोहराते रहे. और मन में उठने वाले विचारो से ध्यान हटाकर साँसों पर ध्यान केन्द्रित करे.

मंत्र उच्चारण  के समय अगर मन कोई विचार आते है उनको जबरदस्ती हटाने का प्रयास न करे. अगर आप ऐसा करते हो तो अपना ध्यान भंग होता है जो मेडिटेशन में सही नहीं है.

 

6. लगभग 20 से 30 मिनट बाद मंत्र उच्चारण करना बंद कर सकते है. ये टाइम सबके लिए अलग अलग हो सकता है. पर इसके बाद भी थोड़े देर के लिए आँखे बंद ही रखे. उसके बाद अपने दुसरे काम शुरू कर सकते है. आप महसूस करेंगे की आपका मन पहले से ज्यादा शांत है और वो अनुभूति काफी आनंददायक होगी आपके लिए.

मेडिटेशन या ध्यान लगाने के लाभ: Meditation ke Fayde in hindi

  • मेडिटेशन करने से आपका मन शांत होगा जिससे तनाव कम होता है.
  • योग साधना करने से एक अलग ही उर्जा ताकत और उत्साह का संचार होता है.
  • जिन लोगो को ज्यादा गुस्सा आता है उसको नियंत्रण में रखने में भी ये काफी फायदेमंद है.
  • प्रतिदिन मैडिटेशन करने से हमारी एकाग्रता बढती है जो कोई भी काम करने के लिए जरुरी है.
  • सही तरीके से मेडिटेशन करने से हमारे फेफड़ो में वायु का संचार बेहतर होता है.
loading...

Leave a Reply

error: Content is protected !!