घाव जल्दी भरने का इलाज के 6 सफल घरेलू उपाय – Zakham ka ilaj

घाव भरने के उपाय, दवा और घरेलू नुस्खे – Ghav bharne ke Upay in Hindi

आजकल रोजमर्रा के काम काज में छोटी मोटी चोट लगना बड़ी बात नहीं. हमारी लापरवाही या कोई दुर्घटना इनका कारण बन जाती है. और चोट लगने से घाव हो जाता है जिनसे काफी दर्द भी हो सकता है. हमें जब भी ऐसे कोई चोट या किसी अन्य वजह से घाव या जख्म बन जाता है तो हम जितने जल्दी हो सके डॉक्टर के पास जाते है. और वहा घाव का इलाज दवा से किया जाता है. अगर आपको भी कोई घाव अभी है या आगे कभी हो तो सबसे पहले ये जांच कर ले की घाव कितना गहरा है. अगर ज्यादा है तो तुरंत डॉक्टर के पास जाए. और अगर घाव ज्यादा गहरा नहीं है तो आज हम घाव जल्दी सुखाने के आसान उपाय बताएँगे जिनसे आप वो चोट घर पर ही घरेलू नुस्खो से ठीक कर लेंगे.

घाव जल्दी भरने का इलाज के घरेलु उपाय - Zakham ka ilaj in hindi

घाव बनने के कारण बहुत से हो सकते है. जिसमे प्रमुख है चोट लगना जिसमे हमारे त्वचा कट, फट जाती है. फोड़ा, त्वचा का जल जाना, अधिक समय तक एक जगह दबाव रहना (pressure sores) जख्म बनने के कुछ और कारण है. घाव हो गया है या होने वाला है उसके लक्षण है खून बहना, एक जगह सूजन आ जाना, त्वचा लाल होना, मवाद (पीप) हो जाना. अगर आपको इनमे से कुछ हुआ है तो इसमें बिलकुल भी लापरवाही मत करे. क्योंकि अगर आप समय पर घाव का उपचार  नहीं करेंगे तो ये आपके लिए गंभीर समस्या बन सकती है. घाव में इन्फेक्शन होने का खतरा ज्यादा रहता है.

जाने: हाथो पैरो में दर्द और जलन के घरेलू नुस्खे

 

घाव (जख्म) का उपचार के घरेलू उपाय – Ghav ka upchar ke Nuskhe Hindi me

1. घाव की सफाई

अगर कभी भी हमें कोई चोट लगती है तो सबसे पहले काम जो हमें करना होता है वो है घाव के अच्छे से सफाई करना. उसमे हमें पहले तो अगर खून बह रहा है उसको रोकना है. उसके लिए उस पर हलके दबाव के साथ रुई (cotton) रखे जिससे खून बहना रुक जाए. अगर नहीं रुक रहा तो बिना देरी किये डॉक्टर के पास जाए.

  • घाव भरने के लिए सफाई भी उतनी हे जरुरी है जितने की बाद में उसका इलाज. और इसके लिए ठंडा पानी अच्छा काम करता है. घाव को बहते पानी के निचे रखे, वो नल के पानी से धोये तो बेहतर, नहीं तो किसी बर्तन में पानी ले कर भी जख्म पर डालते रहे. एक बात का ध्यान रखे वो पानी साफ़ हो. इससे धाव से बैक्टीरिया, धूल मिटटी, और दूसरी गन्दगी निकल जायगी. इसके साथ ठंडा पानी चोट के घाव में दर्द भी कम करता है. इसके बाद एक साफ़ पट्टी को उसके उपर रखे.

घाव भरने के लिए उसकी सफाई के दौरान अपने हाथ को अच्छे से साबुन से धो ले. नहीं तो घाव में इन्फेक्शन बनने का खतरा बढ़ जाता है.

2. हल्दी से घाव कैसे भरे

हल्दी एक नेचुरल नुस्खा है जो एंटीसेप्टिक और एंटीबायोटिक होता है जो घाव के उपचार के लिए जरुरी है. हल्दी आपके चोट जल्दी ठीक तो करेगा ही उसके साथ ये किसी भी तरह के infection होने से भी रोकेगा. अगर आपका खून बह रहा है तो आप सीधा उस पर हल्दी दाल सकते है और खून रुक जायगा. आधा चमच्च हल्दी लेकर उसका लेप बना ले. अब इस हल्दी के लेप को अपने जख्म पर लगाये.

3. लहसुन से घाव का उपचार

पुराना घाव का इलाज करने के लिए लहसुन को लम्बे समय से इस्तेमाल किया जाता रहा है. लहसुन खून रोकने और दर्द कम करने के साथ हमारे शरीर की प्रतिरोधक शक्ति को भी बढ़ाने का काम करता है. लहसुन का पेस्ट बनाकर उसको सीधा घाव पर लगाये. अब उसके उपर एक साफ़ पट्टी बाध दे. 20 मिनट बाद उस हिस्से को पट्टी उतार के धो ले. दिन में 2 बार इस घरेलू उपाय को करे.

4. नीम से घाव का इलाज

नीम में आवशक fatty acid पाए जाते है जो भाव भरने में मददगार होते है. नीम में पाए जाने वाले गुणों की वजह से इसका घाव सूखने की दवा के रूप में भी उपयोग किया जाता है. इस घरेलु उपाय के लिए एक चमच्च नीम के पत्तो का रस और एक चमच्च हल्दी को मिलकर पेस्ट बना ले. अब इस पेस्ट को घाव पर लगाये और कुछ घंटो तो ऐसे ही छोड़ दे. फिर उसे हलके गरम पानी से धो ले. इसे दोहराते रहे जब तक घाव पूरी तरह ठीक ना जाए.

5. एलोवेरा 

एलोवेरा का उपयोग घाव भरने के लिए पुराने समय से किया जाता रहा है. इसमें phytochemicals पाया जाता है जो दर्द, सूजन कम करने के साथ त्वचा में नमी बनाये रखता है जिससे जख्म जल्दी भरने में मदद मिलती है. इसका तरीका बड़ा आसा है आपको एलोवेरा का पत्ता लेके उसका रस (gel) निकालना है. और उसे सीधा घाव पर लगाकर उसे सूखने दे. फिर उसे गरम पानी से धो कर, मुलायम कपडे या तौलिये से हलके से रखकर पानी सौख ले.

 

घाव सुखाने की दवा : Wound Healing Medicine in Hindi

कोई भी चोट लगने पर या पुराने घाव पर आम तौर पर Betadine की पट्टी की जाती हैं. पर आज हम एक ऐसे घाव सुखाने की आयुर्वेदिक दवा के बारे में बताएँगे जो काफी असरदार होती हैं. इस मेडिसिन का नाम हैं Murivenna Oil. ये एक आयुर्वेदिक तेल है जो ताज़ा घाव या पुराने जख्म को भर नहीं रहे उन्हें जल्द भरने में गजब काम करता हैं. इस दवा से घाव ठीक करने के साथ दर्द में भी रहत मिलती हैं.

  • इस दवा को लगाना काफी आसान हैं. एक रुई को Murivenna तेल में डुबाए और उसे घाव वाली जगह पर लगाए. अगर आपको जोड़ो में दर्द है तो उसमे भी ये तेल काफी प्रभावी हैं जिस जगह भी दर्द है वह 5 मिनट तक इस तेल से मसाज़ करे, कुछ ही समय में दर्द छूमंतर हो जायगा.

दोस्तों इस लेख घाव भरने और सुखाने की दवा : Ghaav ke gharelu Upchar? से संबधित अपने सवाल या सुझाव निचे कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे.

12 Comments

  1. rahul
  2. mohsin khan
  3. Deepakkumar
  4. Nitin Gupta
  5. Rohit kr jha
  6. Akhilesh kumar
  7. MD Imteyaz

Leave a Reply

error: Content is protected !!