गले में खराश दर्द और इन्फेक्शन का इलाज के 10 घरेलू नुस्खे

Gale me Dard aur Infection ka ilaj : आज हम इस लेख में गले में खराश, दर्द, सूजन और इन्फेक्शन का इलाज के आसान उपाय जानेंगे. मौसम बदलने और उल्टा सीधा खा लेने से गला ख़राब होना आम बात है. गले में खरिश (sore throats) होने का इन्फेक्शन मुख्य कारण होता है. किसी तरह की एलर्जी, सर्दी, जुखाम, शुष्क और प्रदूषित हवा इसके होने की वजह बन जाती है. जब ये समस्या ज्यादा बढ़ जाती है तो गले में सूजन का रूप ले लेती है जिससे हम कुछ खाने पीने के लिए भी मजबूर हो जाते है. इसलिए इसमें किसी भी तरह की लापरवाही नहीं की जा सकती. ये सब लक्षण वायरल संक्रमण के होते है इसलिए इसके लिए कोई एंटीबायोटिक्स (antibiotics) या और कोई दवा भी काम नहीं करती. आप गले में दर्द और खराश का उपचार आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खो से कर सकते है.

Gale ki kharash infection aur dard ka ilaj ke 7 Gharelu nuskhe

गले में खराश दर्द और इन्फेक्शन का इलाज के नुस्खे

Gale ki kharash infection aur dard ka ilaj in Hindi

1. निम्बू (Gale ki kharash ke liye Nimbu)

गले में खराश होने का एक कारण गले में कफ (बलगम) जमना  होता है. निम्बू के इस्तेमाल से हम उस बलगम को गले से हटा सकते है.

  • इस घरेलू नुस्खे के लिए हमें एक गिलास गरम पानी में एक निम्बू निचोड़ना है. और उसके साथ ही उसमे एक चमच्च शहद की मिला ले. अब इस पानी को धीरे धीरे पिए.

2. नमक के पानी से गरारे (कुल्ला) करना 

आपने अपनी दादी माँ से कभी न कभी सुना होगा की अगर गले में खराश है तो गरम नमक के पानी से गरारे करे. बहुत पुराने समय से इसको गले में खराश के इलाज के रूप में इस्तेमाल किया जाता रहा है. गले में दर्द हो या कोई सूजन हो, ये घरेलू उपाय बड़ा कारगर है.

  • एक कप हल्का गरम पानी ले और उसमे आधा चमच नमक की मिला ले. नमक आचे तरह मिक्स करने के बाद इस पानी से गले में गरारे (कुल्ला) करे. दिन में 3 बार इसको दोहराए आपको असर दिखाई देने लगेगा.
  • जाने: थायराइड के घरेलू उपचार के उपाय हिंदी में

3. लहसुन (Garlic se Gale me dard ka ilaj)

गले की खराश दर्द और सूजन  दूर करने का लहसुन एक घरेलू उपाय है. लहसुन जीवाणुरोधी और एंटीसेप्टिक होता है इन गुणों के कारण ये हमारे गले में बैक्टीरिया को हटा के इन्फेक्शन ख़त्म करता है जिससे गले में राहत मिलती है.

  • इसके लेने का तरीका आसान है. एक कच्ची लहसुन रोजाना खाए इससे एक allicin नाम का केमिकल निकलता है जो बेक्टेरिया मारने में मदद करता है.

4. सेब का सिरका (Sore throat ka gharelu nuskha)

सेब का सिरका से गले की खारिश और दर्द का उपचार घर पर किया जा सकता है. गले में सूजन दूर करने में भी ये फायदेमंद है.

  • आधा गिलास गर्म पानी में एक चमच्च सेब का सिरका, एक चमच्च निम्बू का रस और थोडा शहद मिलाये. अब इस मिश्रण क आराम से पिए. इस उपाय को रोजाना 2 से 3 बार करे.

5. दालचीनी (Dalchini se gale ka upchar)

कई बाद आम सर्दी की वजह से भी गला ख़राब हो जाता है. उसके उपचार के लिए दालचीनी एक रामबाण घरेलु उपचार है.

  • एक गिलास हलके गुनगुने पानी में एक चमच्च दालचीनी पाउडर और उतना ही काली मिर्च पाउडर डाले. साथ में एक इलायची भी दाल ले. अब इस पानी से दिन में 2-3 बार कुल्ला करे.

6. हल्दी

गले में इन्फेक्शन और खुजली के इलाज के लिए हल्दी भी एक अच्छा घरेलू उपाय है. गरम पानी में एक चौथाई (1/4) हल्दी की चमच्च मिलाये और सुबह खाली पेट वो पानी पिए.

7. पुदीना (Gale me sujan dard ka upay Pudine se)

पुदीने में काफी ऐसे गुण होते है जो गले में पतला बलगम, खांसी और मांशपेशियो को शांत करने में मददगार होती है. पुदीना हमारे साँसों को भो तरोताजा करता है जिससे मुंह की बदबू भी ख़त्म हो जाती है.

8. चिकन सूप

चिकन सूप गले में दर्द या इन्फेक्शन के लिए एक फायदेमंद घरेलू नुस्खा हैं. अगर आप नॉन वेग से परहेज़ नहीं करते तो गले की समस्या में आपको चिकन सूप जरुर पीना चाहिए. जल्दी आराम के लिए सूप में लह्सुन मिला सकते हैं.

9. शहद

शहद जीवाणुरोधी होता है जो गले में दर्द सूजन की वजह इन्फेक्शन को ख़त्म करने में मदद करता हैं. गले में जब संक्रमण होता है तब वहा के टिश्यू में सूजन आ जाती है और उनमे पानी जमा हो जाता हैं. शहद उस पानी को निकालने में सहायक होता हैं.

  • एक कप गर्म पानी में 2 चमच्च शहद की मिलकर पिए. इस होम रेमेडी का सेवन दिन में 2-3 बार करे.

10. मेथी

गले में दर्द और सूजन में आराम पाने में मेथी से तैयार घरेलू नुस्खा एक रामबाण उपाय हैं. एक लीटर पानी में 2 चमच्च मेथी के बीज डालकर 30 मिनट तक उबाले।  अब थोड़े देर के लिए इसे ठंडा होने रख दे, इसके बाद इस पानी से दिन में 3-4 बार गरारे करे.

दोस्तों तो अब कभी आपके गले में इन्फेक्शन हो तो उपर बताए घरेलू नुस्खे करे. इस लेख गले में खराश सूजन और दर्द का इलाज : Sore Throat Treatment in Hindi? को लेकर अपने सवाल सुझाव कमेंट्स में लिख सकते हैं.

Leave a Reply

error: Content is protected !!