दिल का दौरा पड़ने से रोकने के उपाय, आयुर्वेदिक उपचार और लक्षण

दिल का दौरा का इलाज के उपाय: दिल के बीमारी कोई भी हो सभी जानलेवा साबित हो सकती है. दिल का दौरा (Heart Attack) इनसे से सबसे प्रमुख और घातक बीमारी है. इसमें रोगी को आपातकालीन चिकित्सा की जरुरत होती है. दुनिया में लाखो लोगो ने इस वजह से आपने जान गवाई है. जब हमारे दिल में खून के जरिये पहुचनी वाली ऑक्सीजन सप्लाई रुक जाती है जो हार्ट ब्लॉकेज  (heart blockage) की वजह से होता है. ऐसे में हमारे हृदय की मान्श्पेशिया मरने लगती है जो दिल का दौरा पड़ने का कारण बनता है. हमारा खान पान और अस्वस्थ दिनचर्या हार्ट अटैक की प्रमुख वजह में से है. खाने में ज्यादा वसा लेना जिससे कोलेस्ट्रोल बढ़ जाता है जो आगे चलकर दिल के कई रोग को जन्म देता है.

एक अध्यन में ये पाया गया की खाने में जायदा तेल से बनी चीजे और नॉन वेग (मांसाहारी) लोगो को दिल का दौरा पड़ने के मामले ज्यादा आते है उन लोगो की तुलना में जो शाकाहारी है और ज्यादा वसा रहित खाने से परहेज करते है. और जब ये दिल के समस्या आती है डॉक्टर दवारा ज्यादातर मामलो में रुकी हुई और क्षतिग्रस्त धमनियों की मरम्मत के लिए दिल की बाईपास सर्जरी (Heart bypass Surgery) करवाने की सलह देते है. जिसको करने में काफी ज्यादा खर्चा आता है और सबसे बड़ी बात ह्रदय का रुक जाना (Heart failure) के भी हालात बन सकते है. इस पोस्ट में हम आपको दिल का दौरा पड़ने का घरेलू उपचार के उपाय, लक्षण और बचाव बताएँगे. जो काफी हद तक आपको हार्ट अटैक का इलाज और बचाव में मदद करेंगे.

Dil ka Daura Padne ke Lakshan aur Upchar rokne ke Gharelu Upay

हार्ट अटैक क्यों पड़ता है: Dil Ka Daura Padne ke karan

  • कोलेस्ट्रोल बढ़ जाना (high cholesterol)
  • टेंशन में रहना
  • मोटापा
  • शराब और सिगरेट का अधिक सेवन
  • व्यायाम ना करना.

 

दिल का दौरा पड़ने के लक्षण : Heart Attack padne se pahle Lakshan

हार्ट अटैक (हृदयाघात) का उपचार जानने से पहले जरुरी है की हम इसके लक्षण जान ले. हम बता दे की सबको एक जैसे लक्षण दिखाई नहीं देते ये निर्भर करता है व्यक्ति विशेष पर. जैसे शुगर (diabetes) के मरीजो को heart attack के sign काफी कम दिखाई देते है.

  • सीने में तेज दर्द (chest pain) होना
  • सांस फूलना और सांस लेने में मुश्किल आना.
  • उलटिया लगना और जी मचलाना
  • कंधो और गर्दन में दर्द होना.
  • पेट, जबड़े और दांत में दर्द होना
  • घबराहट और ठंडा पसीना निकलना
  • ज्यादा थकान और बेहोशी आना

 

दिल का दौरा का देसी इलाज उपचार के घरेलू नुस्खे

Heart attack (Dil ka Daura) ka ayurvedic ilaj in Hindi

1. हल्दी

एक अध्ययन से पता चला है हल्दी से दिल की बीमारी का उपचार  करने में काफी मदद मिलती है. हल्दी में curcumin नाम का एक अवयव होता है. जो हमारे ह्रदय को स्वस्थ बनाये रखता है और धक्का भी नहीं बनने देता.

इस घरेलू नुस्खे के लिए एक चमच्च हल्दी को एक कप दूध में डालकर पिए. और साथ में खाने में भी हल्दी का उपयोग जरुर करे

 

2. अर्जुन पेड़ की छाल (Arjuna se Heart Attack ka Ayurvedic ilaj)

अर्जुन की छाल एक प्रभावी जड़ी बूटी है जिससे दिल का दौरा का आयुर्वेदिक इलाज उपचार किया जा सकता है. ये आपके ह्रदय की मांसपेशियों को मजबूत बनता है और उच्च रक्तचाप को कम करती है. एक स्टडी में ये पाया गया है ये आयुर्वेदिक दवा हार्ट अटैक के रिस्क को 30% तक कम करती है.
पहले अर्जुन छाल का पाउडर बना ले और एक चमच्च उस पाउडर की एक गिलास हलके गर्म पानी में मिलाये. इसमें थोडा शहद भी मिलकर दिन में 3 बार इसका सेवन करे.

 

3. लहसुन (Garlic se Dila ka Daura ka Upchar)

लहसुन दिल का दौरा का उपचार का एक कारगर घरेलू उपाय है. हमारे दिल को मजबूत बनाने और खून प्रवाह को बढाने में मददगार है. इसके अलावा और दुसरे दिल की रोग से छुटकारा पाने के लिए लहसुन का इस्तेमाल किया जा सकता है.
प्रतिदिन 2 कच्चे लहसुन चबा कर खाए उसके बाद एक गिलास दूध पी ले. जल्द ही आपको राहत महसूस होने लगेगी.

 

4. लाल मिर्च

लाल मिर्च में capsaicin नाम का एक फायदेमंद घटक मिलता है. जो हृदयाघात का इलाज और साँसों की दुसरे समस्याओ को दूर करने में लाभकारी है. इसमें और भी कई ऐसे गुण पाए जाते है लाल मिर्च खून को साफ़ करने के अलावा हमारी रोग प्रतिरोधक ताकत बढाता है.
आधा चमच्च लाल मिर्च एक कप गरम पानी में डाले और उसे अच्छी तरह मिलकर थोडा ठंडा करके पिए.

 

5. ग्रीन टी (Heart attack se kaise bache)

ग्रीन टी एक अच्छी एंटीऑक्सीडेंट है जो ह्रदय और खून की धमनियों को को मजबूत बनाने के साथ हमारी पाचनशक्ति बढाता है. जापान में हुए एक अध्यन के अनुसार रोजाना 5 कप ग्रीन टी पीने से हार्ट अटैक से जान जाने के खतरे को 26% तक कम करता है. दिल का दौरा पड़ने से बचने के लिए दिन में 3-4 कप ग्रीन टी के जरुर पिए.

 

दिल का दौरा पड़ने से रोकने के उपाय: Heart attack se bachne ke Upay

1. हार्ट अटैक रोकने के लिए ऑयली खाना कम से कम खाए.

2. अगर पेशाब आने को हो तो उसको ज्यादा देर तक न रोके इससे दिल पर पूरा असर पड़ता है.

देखे: बार बार पेशाब आने का इलाज के घरेलू उपाय

3. शारीरिक फिट रहना बहुत जरुरी है.  रोजाना हल्का फुल्का व्यायाम जरुर करे.

4. खाने में मछली को शामिल करे. मछली खाना हमारे हार्ट के लिए फायदेमंद है

5. दिल का दौरा से बचने के लिए नींद पूरी लेनी चाहिए. कम से कम 7 घंटे की  नींद जरुर ले.

जाने: नींद आने के आयुर्वेदिक घरेलू उपाय और नुस्खे

6. ब्लड प्रेशर, शुगर और कोलेस्ट्रोल को नियंत्रण में रखे. ये 2 बड़ी वजह बनती है Heart Attack आने की.

7. वजह ज्यादा न बढ़ने दे. उसके लिए आप बाबा रामदेव योगा भी कर सकते है. जो काफी प्रभावी है

8. अगर आपको दिल की कोई बीमारी है तो शराब और धुम्रपान न करे.

पढ़े: धूम्रपान छोड़ने के आसन टिप्स और उपाय

9. जितना हो सके उतने कम टेंशन ले. तनाव रहना एक बड़ा कारण बन जाता है दिल के रोगों का.

Leave a Reply

error: Content is protected !!