डेंगू बुखार का घरेलू उपचार के 7 देसी आयुर्वेदिक नुस्खे और उपाय

Dengue ka ilaj in Hindi : डेंगू मच्छर से काटने से होने वाला बुखार है जिसका समय रहते इलाज न किया जाए तो ये जानलेवा भी साबित हो सकता है। डेंगू एक वायरल इन्फेक्शन होता है जो मादा aades नाम के मच्छर के काटने से होता है। सही समय और सही ट्रीटमेंट से डेंगू से उभरने में 3 से 11 दिन का समय लगता है पर कई बार इससे भी लम्बा समय लगता है। इस फीवर में हड्डियों और जोड़ो में तेज़ दर्द में रहता है इसी वजह से डेंगू को हड्डी तोड़ बुखार भी कहते है। जब किसी को ये बुखार चड़ता है तो उसके खून में प्लेटलेट्स तेज़ी से कम होने लगते है। जिसका पता ब्लड टेस्ट से लगाया जा सकता है। डेंगू ट्रीटमेंट के लिए मेडिकल साइंस अभी तक कोई टीका या दवा (medicine ) नहीं है। पर घबराने के जरुरत नहीं है हम कुछ घरेलू नुस्खे की मदद से डेंगू का घरेलू उपचार कर सकते है।

जिन लोगो की इम्यून शक्ति कमज़ोर होती या जिन्हें पहले भी डेंगू हुआ है उन्हें ये बुखार होने की संभावना अधिक होती है। इसमें रोगी का तापमान काफी बढ़ जाता है और उसके साथ सर दर्द, पेट दर्द, उलटिया और लो ब्लड प्रेशर जैसे लक्षण दिखाई देते है।

डेंगू बुखार के घरेलू उपचार Dengue ka ilaj in Hindi

डेंगू बुखार का उपचार के घरेलू नुस्खे

Dengue ka Desi ilaj (Treatment) in Hindi

1. गिलोय का जूस

डेंगू का आयुर्वेदिक इलाज के लिए गिलोय एक रामबाण नुस्खा है। डेंगू में प्लेटलेट्स की संख्या घाट जाती है और गिलोय प्लेटलेट्स बढ़ाने में मदद करने के साथ इन्फेक्शन से लड़ने में भी मदद करता है। गिलोय की पत्तियों के रस के सेवन से शरीर से हानिकारण रसायन भी बाहर निकल जाते है।

  • गिलोय की कुछ ताज़ा पत्तिया और थोडा पानी मिक्सी में डालकर पीस ले और उसे छान कर पिए ।

 

2. पानी खूब पिए

डेंगू के उपचार के लिए अधिक से अधिक पानी पीना बहुत जरुरी है। पानी पीने से आप हाइड्रेट रहंगे और डेंगू में वो आवश्यक है। डेंगू में होने वाले जोड़ो के दर्द और दिर दर्द में भी पानी पीने से आराम मिलेगा। ब्लड प्लेटलेट्स को बढ़ाने में भी पानी मदद करता है। पानी के अलावा आप संतरे का जूस और नारियल पानी भी पी सकते है।

3. पपीते की पत्तिया

पपीते की पत्तिया को हम प्लेटलेट्स बढ़ाने के उपाय के लिए उपयोग कर सकते है। सर में दर्द, जी मिचलाना, शरीर में दर्द जैसे बुखार के लक्षणों को कम करने में भी पपीते की पत्तिया लाभकारी है। पपीते की पत्तिया विटामिन सी का उच्च स्त्रोत होता है जिससे रोग प्रतिरोधक शक्ति को भी बढ़ावा मिलता है।

  • कुछ पपीते की पत्तिया ले और उन्हें पहले अच्छे से धोले।  इन पत्तियों में पानी मिलकर उनका जूस तैयार करे। डेंगू के इलाज के लिए दिन में 3  बार इस जूस का सेवन करे।

 

4. नीम की पत्तियों का जूस

नीम एंटीवायरल और anti-fungal होता है जो डेंगू की वायरस से लड़ने में मदद करता है। नीम की पत्तिया ब्लड सेल्स और प्लेटलेट्स को भी बढाती है जो डेंगू के उपचार के लिए जरुरी होते है। नीम में निम्ंबिन और निंबीडिन होता है जो किसी भी तरह की सूजन को कम करने का काम करते है। घर पर ही नीम की पत्तियों का रस बनाये और दिन में 2  बार पिए।

 

5. मेथी की पत्तिया

मेथी को डेंगू के रामबाण इलाज के लिए एक कारगर नुस्खा माना जाता है। बुखार में तापमान को कम करने में मेथी मददगार होती है। इसके अलावा गहरी नींद लाने में भी मेथी की पत्तिया मदद करती है।

  • मेथी की पत्तिया ताज़ा पानी में भिगो कर रखे और कुछ घंटो बाद इसे पी ले। मेथी पत्तियों की जगह आप मेथी पाउडर पानी में मिलकर भी सेवन कर सकते है।

 

6. अनार का जूस से डेंगू ट्रीटमेंट

डेंगू में गिरे हुए प्लेटलेट्स की कमी को पूरा करने में अनार का जूस बहुत प्रभावी उपाय होता है। अनार कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन c से भरपूर होता है जो डेंगू से छुटकारा पाने में मदद करते है। हाई ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रोल को नियंत्रण में रखने में भी अनार का जूस फायदेमंद होता है।

 

7. तुलसी और काली मिर्च

डेंगू से जल्दी उभरने के लिए डॉक्टर तुलसी और काली मिर्च से बने घरेलू नुस्खे का सेवन की सलाह देते है। कुछ पानी में तुलसी की पत्तिया उबाले और उसमे 2 ग्राम काली मिर्च मिलकर सेवन करे। इस होम रेमेडी के सेवन आपको इम्युनिटी बढाता है जिससे वायरस को खत्म करने में मदद मिलती है।

डेंगू में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं : Dengue Diet in Hindi

  1. डेंगू में तले हुए मसालेदार खाने से परहेज करे। ऐसा खाना आपको स्थिति को और बिगड़ सकता है।
  2. मसालेदार सब्जियों के बजाय सूप का सेवन करे।
  3. संतरा विटामिन c, फाइबर और पौषक तत्वों से भरपूर होता है डेंगू फीवर ट्रीटमेंट के दौरान संतरा खाए।
  4. इस बुखार में गाजर, ककड़ी और पत्तेदार हरी सब्जियों का जूस बनाकर पिए।
  5. रोगी को प्रोटीन युक्त डाइट देनी चाहिए . एक नियमित मात्रा में चिकन, मछली या अंडे खाए।

मित्रो ये लेख डेंगू बुखार के घरेलू उपचार : Dengue ka ilaj (Treatment) in Hindi? आपको कैसा लगा निचे कमेंट्स में जरुर बताए . हमारे किसी पाठक का कोई सवाल है डेंगू का इलाज से संबधित वो भी आप नीचे लिखे .

Leave a Reply

error: Content is protected !!