दाद खाज खुजली का इलाज की अचूक दवा और 5 घरेलू नुस्खे

दाद खाज खुजली का इलाज की दवा: खुजली के जो लक्षण होते है वो हम सब ने कभी न कभी तो महसूस किये ही होते हैं। थोड़ी बहुत खुजली होना आम बात हैं। किसी को भी जब खाज होती है तो वो असहज महसूस करता ही हैं। ऐसा लगता है जैसे त्वचा पर कुछ रेंग रहा हो, जिससे खुजली महसूस होती हैं और उस जगह पर रगड़ने का मन करता हैं। खुजली कई प्रकार की होती हैं। जिनमे दाद, एक्जिमा और सोरायसिस कुछ ऐसे खुजलिया हैं जिनका इलाज काफी मुश्किल होता हैं। दाद खाज खुजली के इलाज के लिए कई तरह की दवाइया और क्रीम बाज़ार में उपलब्ध हैं। उनमे से सबसे असरदार मेडिसिन और कुछ घरेलु नुस्खे जिन्हें घर पर ही बनाकर काफी हद तक खुजली से छुटकारा पा सकेंगे।

खुजली ऐसे त्वचा संबधित समस्या है जिसका अगर समय रहते इलाज ना किया जाए तो ये पूरे शरीर में फ़ैल जाती हैं। कई बार ऐसा भी होता है की दाद या खुजली बॉडी के एक ही हिस्से पर रहती हैं। खुजली हाथ, पैर, टाँगे, खोपड़ी या शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकती हैं। त्वचा में खुस्की आना खुजली होने का सबसे आम कारन होता हैं। दाद खुजली के कुछ अन्य कारण और घरेलु ट्रीटमेंट के बारे में इस लेख में हम आगे जानेंगे।

दाद खाज खुजली होने के आम कारण

  • स्किन में सूखापन (Dry Skin) आना यानी खुस्की ज्यादा होना खुजली होने का प्रमुख कारण होता हैं। ये हमारे शरीर में जरुरी मात्रा में फैट और तेल ना बनने से होता हैं।
  • शरीर के किसी हिस्से का लम्बे समय तक गीला रहना।
  • बच्चो में बुखार और बड़ो में अस्थमा जैसे बीमारिया होने से भी एलर्जी हो जाती हैं। जिससे खुजली हो जाती हैं।
  • कीड़े मकोड़े या दुसरे किसी कीट के काटने से भी खुजली हो सकती हैं।
  • शरीर में आयरन कौशिकाओ की कमी हो जाने से भी स्किन इचिंग हो जाती हैं। जब आयरन की कमी बॉडी में होती हैं तो लाल रक्त कैशिकाए कम बनती हैं जिससे खुजली होने की सम्भावना बढ़ जाती हैं।
  • पसीना ज्यादा आना।
  • रोग प्रतिरोधक शक्ति कमज़ोर होना।

Daad Khaj Khujli ka ilaj, Karan

खुजली या दाद होने के लक्षण

  • त्वचा का रंग लाल पड़ जाना और खुजली होना।
  • स्किन फटी हुई लगना
  • जब एक गोलाकार अक्रती में खुजली हो तो वो दाद हो सकती हैं।
  • त्वचा में सुजन आना भी खुजली का संकेत हो सकता हैं।
  • स्किन पर धब्बे पढ़ जाना

दाद खुजली के इलाज की क्रीम (दवा) : Itching Medicine in Hindi

दाद खाज खुजली के लिए tenovate नाम की क्रीम काफी असरदार होती हैं। खासकर अगर आपको दाद हो रखे हैं और वो किसी भी घरेलु नुस्खे या अन्य दवाइयों से ठीक नहीं हो रहे तो ये क्रीम आपको जरुर लगानी चाहिए। ये क्रीम हमारे द्वारा कई तरह की खुजली में अजमाई गयी हैं और इसके परिणाम काफी अच्छे और जल्दी हमें मिले। Tenovate क्रीम खुजली, स्किन में सूजन, लाल दाने, दाद और सोरायसिस जैसे गंभीर त्वचा रोग में भी गजब काम करती हैं।

दाद खुजली की क्रीम Itching Medicine in Hindi

इसे लगाने का तरीका बड़ा सरल हैं। जिस जगह पर भी खुजली या दाद है वहा पर ये क्रीम दिन में 2 बार सुबह शाम को लगाए।एक बात का ध्यान रखे क्रीम लगाने के बाद उसके उपर कोई पट्टी या कुछ और ना ढके। उस हिस्से को खाली ही रहने दे। निचे Tenovate Cream की फोटो भी हमने डाली है जिससे दिखाकर आप मेडिकल स्टोर से इसे खरीद सकते हैं।

दाद खुजली का घरेलू इलाज के नुस्खे : Daad Khujli Ka ilaj

1. नारियल का तेल (Coconut Oil)

खुजली चाहे कैसे भी हो, किसी भी वजह से हुई हो नारियल का तेल हमेशा आराम पहुचाता हैं। त्वचा शुष्क पड़ जाने से हुई खुजली हो या फिर कोई कीड़ा काटा की वजह से खाज हो , नारियल का तेल लगाने से जल्द ठीक हो जाता हैं।

खासकर सर्दियों में मौसम में स्किन सुखी रहती हैं जिससे खारिश होने का डर रहता हैं और जब ऐसे खारिश हो जाए तो पहले तो गुनगुने गर्म पानी में नहाए और उसके बाद उस हिस्से या फिर पूरी बॉडी पर नारियल के तेल से हलके हाथो से मालिश करे। उच्च ही समय में आपको वहा आराम महसूस होगा। अगर आपको खुजली नहीं है तब भी बचाव के लिए सर्दियों में इसे जरुर लगाये।

2. सेब का सिरका

खुजली चाहे कही भी हो लोगो के सामने शर्मिंदगी का कारण बन जाती हैं। अगर आप महिला है तो आपने कभी न कभी योनी में या उसके आस पास के हिस्से में खुजली का अहसास कभी न कभी जरुर किया होगा। और ये एक ऐसे जगह हैं जहा खुले में खुजली की जा सके जिससे काफी असहजता रहती हैं। इसके होने का मुख्य कारन वहा पर बैक्टीरिया का जमा होना हैं। सेब का सिरका एंटीबैक्टीरियल और अन्तिफुन्गल होता हैं। जिससे सेब के सिरके का नुस्खा करने से वहा बैक्टीरिया को खत्म करता हैं।

  • एक गिलास पानी को पहले पूरी तरह उबाले जिससे उसमे कीटाणु ना रहे। पानी ठंडा होने के बाद उसमे एक चमच्च सेब के सिरके की मिलाए। इस सिरका मिले पानी से अपनी यानी को अच्छे से धोए। इसे आप दिन में 2-3 बार जरुर करे। दूसरी जगह पर दाद या खुजली के लिए बराबर मात्रा में पानी और सिरका मिलाये और रुई से उस हिस्से पर लगाये।

3. टी ट्री आयल (Tea Tree Oil)

अगर आपको लम्बे समय से दाद है जो ठीक ही नहीं हो रहा तो टी ट्री आयल आपके लिए जादुई नुस्खा हो सकता हैं। ये तेल एंटीसेप्टिक और एंटीफंगल होता हैं जिससे ये उन फंगस को मार देता हैं जो वह इन्फेक्शन फैलाते हैं जिसकी वजह से दाद बनता हैं।

  • टी ट्री आयल की कुछ बुँदे एक रुई के टुकड़े पर गिराए और उसे दाद वाली हिस्से में लगाए। ये तेल दिन में 2-3 बार तब तक लगाए जब तक दाद ठीक ना हो जाए।

4. निम्बू (Lemon)

खुजली से छुटकारा पाने में निम्बू भी काफी फायदेमंद होता हैं। निम्बू में कई ऐसे विटामिन्स होते हैं जो खारिश के उपचार में मदद करते हैं। एक आजा निम्बू को निचोड़ कर उसका रस निकाल ले। अब रुई के मदद से उस रस को खुजली वाली जगह पर लगाए। ये घरेलु नुस्खा दिन में 2 बार करे। निम्बू के एक ऐसा तेल होता हैं जो उत्तेजना को कम करता हैं जिससे खारिश में तेज़ी से आराम होता हैं।

5. तुलसी के पत्ते

तुलसी में कपूर और थय्मिओल होते हैं को खुजली में हुई खारिश और जलन में आराम पहुचाते हैं। तुलसी में कुछ और भी ऐसे गुण होते हैं जो इचिंग ट्रीटमेंट में फायदेमंद होते हैं। इस होम रेमेडी को करने के 2 तरीके हैं। पहला जो आसान है उसमे बस आपको तुलसी के पत्ते लेने है और उससे खुजली वाली जगह पर रगड़ना हैं। दूसरा तरीके में पहले हम तुलसी के पत्तो को पानी में उबालते हैं। फिर एक साफ़ कपडा उस तुलसी वाले पानी में भिगोकर उसे उस जगह पर लगाते हैं।

फ्रेंड्स दाद खाज खुजली का इलाज की दवा (मेडिसिन) इन हिंदी? लेख के बारे में अपने सुझाव और अनुभव कमेंट्स  में साँझा जरूर करे.

84 Comments

  1. rahul gupta
  2. Aditya
  3. Ankit
  4. Satish
  5. Naval
  6. subhash kumar
  7. bickey goswami
  8. Mahtab Alam
  9. aalok

Leave a Reply

error: Content is protected !!